सिरसा तक गोरखधाम और कालिंदी एक्सप्रेस के लिए सुनीता दुग्गल ने बढ़ाये कदम

0
57
sunita duggal mp sirsa (haryana)

प्रमोद कुमार
दी सड़कनामा डॉट कॉम से.

पहली बार सिरसा लोकसभा क्षेत्र से चुनी गयी भाजपा सांसद सुनीता दुग्गल ने संसद में सिरसा की आवाज को बुलंद किया है। सुनीता दुग्गल ने आज संसद में गोरखधाम और कालिंदी एक्सप्रेस को सिरसा तक पहुंचाने को लेकर आवाज उठायी है। उम्मीद जताई जा रही है की दोनों ट्रेनें जल्द सिरसा को मिल सकती है जिससे सिरसा के अलावा साथ लगते पंजाब और राजस्थान के लोगों को भी इसका लाभ मिलेगा। वहीं, सिरसा से दिल्ली जाने में आ रही रेलवे दिक्क्तें भी दूर होंगी। बता दें कि, पंजाब और राजस्थान के बॉर्डर पर स्थित पिछड़ा हुआ सिरसा संसदीय क्षेत्र में 70 वर्षों में पहली बार भाजपा कि सांसद चुनी गयी है और उसी पार्टी यानी बीजेपी की प्रचंड बहुमत से केंद्र में सरकार है। सिरसा, हरियाणा के सबसे पिछड़े हुए औद्योगिक इलाके में माना जाता रहा है। भौगोलिक लिहाज से भी बिल्कुल पंजाब और राजस्थान के बॉर्डर पर है, यानी दिल्ली से बहुत दूर है। ऐसे में सिरसा से दिल्ली आने-जाने के लिए लोगों को अपने निजी वाहनों का सहारा लेना पड़ता है और बड़े पैमाने पर टोल पर पैसे खर्च करने पड़ते हैं और पेट्रोल पर भी करने पड़ते हैं। वजह यह है कि सिरसा संसदीय क्षेत्र रेलवे के नक्शे से पूरी तरह जुड़ा हुआ नहीं है। सांसद सुनीता दुग्गल ने लोकसभा में पहली बार बोलते हुए सिरसा की रेलवे से जुड़ी हुई समस्याओं को जोरदार तरीके से उठाया। उन्होंने कहा है कि सुबह 8:20 पर बठिंडा से दिल्ली के लिए जाने वाली किसान एक्सप्रेस निकलती है, उसके बाद अगले 19 घंटों तक कोई भी दूसरी ट्रेन दिल्ली की तरफ जाने के लिए नहीं है। अगली ट्रेन हरियाणा एक्सप्रेस है जो सुबह 3:30 बजे है, यानी19 घंटे बाद। सांसद सुनीता दुग्गल ने बहुत ही व्यावहारिक मुद्दे उठाए हैं। उन्होंने कहा कि गोरखधाम एक्सप्रेस जो हिसार से गोरखपुर के लिए चलती है, वह हर रोज सुबह 11:00 बजे आकर हिसार में खड़ी हो जाती है और शाम में 4:00 बजे के बाद वहां से चलती है,  जबकि हिसार से सिरसा की दूरी महज 82 किलोमीटर है। ऐसी स्थिति में अगर गोरखधाम एक्सप्रेस का विस्तार सिरसा तक कर दिया जाए तो सिरसा के लोगों को इसका फायदा होगा। यानी जो लोग दिल्ली आना जाना चाहते हैं वे ट्रेन से जाएंगे, अपने निजी वाहनों से नहीं।  दूसरा मुद्दा भी उन्होंने उठाया है, उन्होंने कहा कि कालिंदी एक्सप्रेस भिवानी तक आती है, उसका भी अगर विस्तार सिरसा तक कर दिया जाए तो इस संसदीय क्षेत्र के 15 लाख लोगों को फायदा मिलेगा। सिरसा के लिए ये बड़े

sirsa haryana

गर्व की बात है कि यहां से चुनी गई एक पढ़ी-लिखी सांसद सुनीता दुग्गल ने अपने पहले ही भाषण में लोकसभा में जिस तरीके से सिरसा को रेलवे नेटवर्क से जोड़ने का मुद्दा उठाया है, उससे लगता है कि आने वाले समय में भी सिरसा जैसे पिछड़े क्षेत्र की लड़ाई वह लोकसभा में मजबूती से लड़ती रहेंगी।

 

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here